ताजा ख़बरेंबिहारबेतियाब्रेकिंग न्यूज़राज्य

17 से 20 अक्टूबर के भारी वर्षा तथा आंधी से हुए धान और गन्ना के नुकसान का उचित हर्जाना मिले

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की पश्चिम चंपारण जिला कमिटी के सचिव प्रभुराज नारायण राव ने पश्चिम चंपारण के जिला पदाधिकारी से मांग किया है


बेतिया मोहन सिंह :-भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की पश्चिम चंपारण जिला कमिटी के सचिव प्रभुराज नारायण राव ने पश्चिम चंपारण के जिला पदाधिकारी से मांग किया है कि 17 से 20 अक्टूबर को भारी वर्षा और आंधी तूफान से पश्चिम चंपारण जिले के अधिकांश हिस्से में पके हुए धान तथा गन्ना को भारी नुकसान हुआ है । यह प्राकृतिक आपदा किसानों का कमर तोड़ दिया है । तैयार धान जिसे काट कर और दौनी कर घरों में रखना था । वह धान जमीन में पटा हुआ है । कुछ किसानों का कटा हुआ धान खेतों में ही सड़ रहा है । वहीं हाल गन्ने और सब्जी का है । जो गन्ना अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से चीनी मिलों में जाना था । वह जमीन पर गिरा पड़ा है । जिसके कारण भारी क्षति हुआ है । गोभी , कद्दू , घेवरा , परवल आदि साग और सब्जी का भी भारी नुकसान हुआ है ।
इतना ही नहीं नीचे की जमीनों में रबी के फसल पर भी ग्रहण लग गया है । जिससे रबी फसल से भी किसान वंचित हो जायेगें ।
उन्होंने कहा कि पश्चिम चम्पारण के जिला पदाधिकारी इसका जांच कराकर प्रति एकड़ 30 हजार रुपए फसल का हर्जाना अविलंब दें ।

Related Articles

Back to top button