ताजा ख़बरेंबिहारबेतियाब्रेकिंग न्यूज़राज्य

बैरिया ब्लॉक पर किसान सभा ने किया अक्रोशपूर्ण प्रदर्शन

29 जुलाई को किसान सभा द्वारा बैरिया प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अंचलाधिकारी के समक्ष किसानों तथा खेत मजदूरों का विशाल प्रदर्शन किया गया ।


बेतिया मोहन सिंह :-29 जुलाई को किसान सभा द्वारा बैरिया प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अंचलाधिकारी के समक्ष किसानों तथा खेत मजदूरों का विशाल प्रदर्शन किया गया ।

प्रदर्शन ने मुख्य रूप से किसान विरोधी तीनों काले कानूनों की वापसी , एमएसपी को कानूनी दर्जा देने , किसानों के सभी प्रकार के कृषि कर्ज माफ करने , बैरिया प्रखंड को बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र घोषित करने , बाढ़ , यास तूफान तथा भारी वर्षा एवं जल जमाव से धान गन्ना एवं मूंग दाल आदि फसलों के नुकसान को मुआवजा देने , बेतहाशा बढ़ती महंगाई पर रोक लगाने , प्रखंड , अंचल , इंदिरा आवास , राशन वितरण तथा राशन कार्ड बनाने में हो रहे भ्रष्टाचार पर अविलंब रोक लगाने , टूटे हुए सड़कों का मरम्मत तथा पानी निकास के लिए बंद पड़े फूलों को शीघ्र खोलने , सभी गरीबों को प्रतिमाह 10 किलो मुफ्त अनाज देने तथा साढ़े सात हजार रुपए विशेष सहायता देने , बैरिया स्वास्थ्य केंद्र में 24 घंटे डाक्टर की व्यवस्था करने ,बाढ़ पीड़ितों को आपदा प्रबंधन के मानदंड के अनुसार सहायता देने , पुनर्वास , भूमिहीनों को आवास एवं जमीन की मांग की ।
इस अवसर पर सभा को बिहार राज्य किसान सभा के संयुक्त सचिव प्रभुराज नारायण राव , जिला किसान नेता बबलू दुबे , खेत मजदूर यूनियन के प्रभुनाथ गुप्ता , ज्वाला कांत दुबे , सुनील कुमार यादव , नौजवान सभा के मोहम्मद हनीफ , प्रकाश वर्मा , चंद्रिका साह , हरिशंकर साह ,बीरेंद्र राव , प्रेमचंद शर्मा , पारन यादव ,काशी साह तथा अनेक साथियों ने संबोधित करते हुए कहा कि अगर पश्चिम चंपारण सहित बैरिया प्रखंड के सभी गांवों में हुए फसल नुकसान का मुआवजा नहीं दिया जाता तो बैरिया प्रखण्ड का बेमियादी घेराव करेंगे ।
वक्ताओं ने 9 अगस्त क्रान्ति दिवस के दिन जिला पदाधिकारी के समक्ष बेतिया में होने वाले प्रदर्शन में भारी संख्या में भाग लेने के लिए किसानों , खेत मजदूरों का आह्वान किया ।

Related Articles

Back to top button