ताजा ख़बरेंबिहारबेतियाब्रेकिंग न्यूज़राज्य

10 जून को राज्य व्यापी कार्यक्रम के दौरान भाकपा माले ने पश्चिम चंपारण के सभी प्रखंड स्वस्थ एवं उप स्वास्थ्य केंद्रों पर धरना और प्रदर्शन किया

कोरोना जनसंहार के जिम्मेदार मोदी सरकार गद्दी छोडो़-भाकपा माले

उप स्वस्थ केंद्र, अतिरिक्त स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से लेकर सामुदायिक चिकित्सा व्यवस्था को ठीक करों-माले

कोविड से हुई मौतों की संख्या छिपाना बंद करों
कोविड काल में हुई सभी मौतों का मुआवजा दो!-माले

सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर डाक्टरों की उपलब्धता, एएनएम को रहने की व्यवस्था, ड्रेसर, सफाईकर्मियो और पैथोलॉजी आदि की व्यवस्था करों!माले

*नकारा स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को बर्खास्त करों!-माले*

*हमारे टैक्स का पैसा हमारे स्वास्थ्य पर खर्च करो*
*स्वास्थ्य सेवा पर GDP का 10% खर्च करो*

*सभी नागरिकों को मुफ्त स्वास्थ्य सेवा की गारंटी करो*
*हर पंचायत में सुविधा पूर्ण स्वास्थ्य उपकेंद्र बनाओ*.

*सभी उपकेन्द्रों में डॉक्टर और दवा का इंतजाम करो*

*स्वास्थ्य क्षेत्र को मुनाफा कमाने का व्यवसाय बनाना बंद हो*.

*जनता का दिया टैक्स जनता का जीवन बचाने पर खर्च करो*

बेतिया मोहन सिंह। केन्द्र की मोदी सरकार और राज्य की नीतीश सरकार कोरोना काल में अपनों की जान बचाने में बुरी तरह विफल ही नहीं रही बल्कि अपनों के मौतों की भी सही सही लेखा जोखा देने के बजाए आंकड़ों को छुपा रही है।
उक्त बातें भाकपा माले नेता सुनील कुमार राव ने बैरिया स्वस्थ केन्द्र पर धरना-प्रर्दशन के दौरान कहा। उन्होंने कहा कि जनता का दिया टैक्स जनता का जीवन बचाने में भी खर्च नहीं कर सकी पटना दिल्ली की सरकारें। जनता दवा, चिकित्सकों, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन जैसी आवश्यक वस्तुओं जरूरतों के अभाव में मर गई।उनका हाल तक पुछने वाला कोई नहीं रहा। सरकार कोविड़ काल में कोविड़ या उससे मिलते जुलते बिमारी से मरने वालों का सही सही ॴकड़ा भी नहीं दे रही है ताकि मरने वालों को मुआवजा भी दिया जा सके। माले नेता ने कहा कि सरकारी आंकड़ों में जैसा कि बताया जा रहा है 46 लोगों की मौत बैरिया प्रखंड में हुई है जबकि सच्चाई यह है कि मात्र लौकरिया पंचायत में एक दर्जन लोगों की कोविड़ या उससे मिलते जुलते लक्षणों वाले बिमारी से हुई है। उन्होंने बताया कि लौकरिया पंचायत के पैक्स अध्यक्ष शंभू यादव, पैक्स कैशियर मनमोहन पासवान, अधिवक्ता रमेश प्रसाद,मधु देवी, विजय सिंह, रामचंद्र साह,पुर्व मुखिया बैद्यनाथ यादव,पहवारी साह,चन्दि्का यादव, रामचंद्र साह और इंन्द् मणि चौबे की मां।उसी तरह बैरिया पंचायत में हीरा लाल मुखिया, पप्पू चौधरी और बीबी सरली की मौत कोविड़ से हुई है। माले नेता सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि किसी भी स्वास्थ्य उप केन्द्र पर चिकित्सक और एक एन एम तक नहीं जाते। बैरिया स्वस्थ केन्द्र पर ऑक्सीजन और चिकित्सक के रहते पंचायत के मुखिया नवीन कुमार की भांजी हिमानी को चिकित्सक द्वारा ऑक्सीजन नहीं लगाने से रास्ते में मौत हो गई।पुरा स्वास्थ्य केंद्र नाकारा साबित हो रहा है। ऐसे में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री को बर्खास्त किया जाए।
माले नेता बिनोद कुशवाहा ने कहा कि सरकार स्वस्थ क्षेत्र को मुनाफा कमाने की व्यवस्था बना दिया है।जरूरत पड़ने पर नीजि क्षेत्र वाले भाग जाते हैं या जनता को लुटने में लग जाते हैं। ऐसे में सरकार स्वस्थ ,उप स्वास्थ्य केंद्रों पर डॉक्टर और दवा का इंतजाम करें। कार्यक्रम में छात्र नेता सचिन कुमार,मोजम्मिल हुसैन,रुदल यादव, भिखारी बैठा, राजकिशोर पटेल, मैनेजर साह आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button