ताजा ख़बरेंबिहारबेतियाब्रेकिंग न्यूज़राज्य

दिनदहाड़े बेतिया स्टेट बैंक ऑफ इंडिया मलाही शाखा में लगभग 10 लाख रूपया की हथियारबंद अपराधियों ने की बैंक डकैती

बैंक डकैतों के दोनों हाथों में थी पिस्टल, भागते समय लूटेरों की ताबड़तोड़कर फायरिंग

बैंक डकैती के पहले अपराधियों ने की बैंकिंग कर्मचारियों से
मारपीट

एक सप्ताह पूर्व इसी बैंक के पास एक दम्पत्ति से लूट लिया गया था एक लाख रूपया

बेतिया मोहन सिंह ।

पश्चिम चम्पारण के बैरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत संत घाट पटजिरवा रोड में करीब आधा दर्जन सशस्त्र अपराधियों ने दिनदहाड़े सरेआम 11 बजे के लगभग भारतीय स्टेट बैंक मलाही शाखा में हमला कर करीब 10 लाख से अधिक रुपया लूट कर पुलिस को खुली चुनौती दिया है।

बुधवार के सुबह 10 बजे बैरिया थानांतर्गत संत घाट पटजिरवा रोड में स्थित भारतीय स्टेट बैंक अपने नियत समय पर ग्राहकों को सेवा देने के लिए खुला। खुलने के लगभग 1 घंटा के बाद 11 बजे ही अचानक 6 हथियारबंद अपराधी अपने दोनों हाथों में पिस्टल/रिवाल्वर लिए हुए अंदर प्रवेश कर गए। प्रवेश के साथ ही सबसे पहले बैंक के कर्मचारियों और मौजूद ग्राहकों को अपने कब्जे में लेकर सीसीटीवी को क्षतिग्रस्त कर दिया। उसके बाद बैंक के शाखा प्रबंधक योगेन्द्र प्रसाद चौधरी, लेखापाल, खजांची समेत सभी को अपने बंदूक की नोंक पर लेकर नगद बैग में भरने को कहा। जिसपर आपत्ति करने पर शाखा प्रबंधक, लेखापाल और महिला खजांची को मारना पिटना शुरू कर दिया। वहीं एक ग्राहक बैरिस्टर राय के भी विरोध करने पर मारा गया। जब उनके द्वारा गोली मारने की बात कही गई तब जाकर बैंक के अधिकारियों ने काउंटर और स्ट्रांग रूम तक ले गए और लगभग 10 से 12 लाख रूपया अपराधियों ने बैग में भर लिया। बैग भरने के बाद अपराधियों ने बैंक के अंदर और बाहर निकल कर दो से तीन फायरिंग भी दहशत फैलाने के लिए किया। फायरिंग करते हुए अपराधी मोटरसाइकिल से मथौली पूजहां पटजिरवा, श्रीनगर के रास्ते की तरफ भाग खड़े हुए।

घटना के पश्चात पुलिस को सूचना दी गई तब कालीबाग ओपी, बैरिया थाना, नगर थाना, नौतन थाना के साथ डायल 112 की गाड़ी के साथ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर दल बल के साथ पहुंच कर घटना की जांच और पूछ ताछ करना शुरू किए। इस दरम्यान यह बात सामने आई कि अपराधी 15 से 20 मिनट के लगभग बैंक की लूट को अंजाम देते रहें और बाहर किसी को भनक तक नहीं लगी। बैंक के अंदर और बाहर पुलिस ने दो कारतूस का खोखा भी बरामद किया है।

वहीं सूचना पर पहुंचे बेतिया पुलिस अधीक्षक उपेन्द्रनाथ वर्मा ने भी बंद बैंक के केबिन में बैंक के शाखा प्रबंधक और अन्य कर्मचारियों से पूछताछ की। पूछताछ के पश्चात पुलिस अधीक्षक ने बैंक के स्ट्रांग रूम और अन्य जगहों का जायजा लिया। उसके बाद मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि बैंक के अंदर 6 अपराधी गए थे और हो सकता है कि बाहर भी हो, जिसकी जांच की जा रही है। बैंक शाखा प्रबंधक ने अनुमान 10 लाख की डकैती बताई है जो कि बढ़ भी सकता है।

ज्ञातव्य हो कि 30 नवम्बर को भटवलिया के एक दम्पत्ति मोतीलाल पटेल द्वारा इसी बैंक से एक लाख नगद निकासी कर अपने गांव के लिए बैंक से कुछ दूर जाने के दरम्यान बाइकसवार लूटेरों ने उनका रूपया छिन लिया था। वो रुपया उनकी बेटी के शादि के लिए निकाल कर ले जाया जा रहा था।

विदित हो कि जिले में बढ़ती बैंक लूट व डकैती से जिला सशंकित है। पूर्व में बेतिया बस स्टैंड उत्तर बिहार ग्रामीण, बरवत पसरैन शाखा और बैंक आॅफ बड़ौदा, लौरिया लूट की घटना का अब तक सफल उद्भेदन नहीं हो सका है और फिर एक बैंक डकैती पुलिस को खुली चुनौती दे डाली है।

Related Articles

Back to top button