ताजा ख़बरेंबिहारबेतियाब्रेकिंग न्यूज़राज्य

क्रॉनिक डिजिज, बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के ईलाज एवं देखभाल की करें समुचित व्यवस्था : जिलाधिकारी।

जीरो टॉलरेंस नीति के तहत अस्पताल में डॉक्टर, नर्सेंज तथा अन्य कर्मियों की शत-प्रतिशत उपस्थिति कराएं सुनिश्चित।

 मोहन सिंह बेतिया। मुख्य सचिव, बिहार की अध्यक्षता में आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्मय से अस्पतालों की व्यवस्था में व्यापक सुधार हेतु मिशन 60 कार्यक्रम के तहत कार्यों की समीक्षा की गयी। इस अवसर पर सभी जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े रहे।

जिलाधिकारी, पश्चिम चम्पारण, बेतिया, कुंदन कुमार द्वारा मिशन 60 कार्यक्रम के तहत जिले में किये जा रहे कार्यों की विस्तृत जानकारी से अवगत कराया गया। मुख्य सचिव महोदय द्वारा संतोष प्रकट किया गया।

तत्पश्चात जिलाधिकारी की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक सम्पन्न हुयी। उन्होंने कहा कि मिशन 60 कार्यक्रम के तहत एसडीएच, बगहा में संतोषजनक कार्य किया गया है परंतु इसमें और अधिक कार्य किया जाना शेष है। इस संदर्भ में जिलाधिकारी द्वारा आवश्यक दिशा-निर्देश सिविल सर्जन सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को दिया गया।

जिलाधिकारी ने कहा कि जिले के सभी सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में जीरो टॉलरेंस नीति के तहत मरीजों को मेडिकल सर्विस उपलब्ध करायी जाय। उन्होंने कहा कि क्रॉनिक डिजिज वाले पेसेंट, बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं के समुचित ईलाज सहित देखभाल में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाय। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जाने वाली सभी सुविधाएं इन्हें हर हाल में मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों में डॉक्टरों, नर्सेंज तथा अन्य कर्मियों की शत-प्रतिशत उपस्थिति, पर्याप्त दवा की उपलब्धता, साफ-सफाई, एंबुलेंस, जांच केन्द्र की व्यवस्था आदि सभी व्यवस्थाएं सुदृढ़ रखी जाय तथा मरीजों को समुचित चिकित्सा उपलब्ध करायी जाय।

इस अवसर पर सिविल सर्जन सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button