ताजा खबरेंपटनापश्चिम चंपारणबिहारब्रेकिंग न्यूज़

अधिक उपज के लिए आवश्यक है समेकित पोषक तत्व प्रबंधन।

समेकित उर्वरक प्रबंधन विषय पर माधोपुर में 15दिवसीय प्रशिक्षण प्रारंभ।

न्यूज़ शंभू पांडेय मझौलिया।
कृषि विज्ञान केंद्र माधोपुर में उर्वरक अनुज्ञप्ति हेतु समेकित उर्वरक प्रबंधन विषय पर 15 दिवसीय प्रशिक्षण के तृतीय बैच का शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत मुख्य अतिथि कृषि विज्ञान केंद्र नरकटियागंज के वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान डॉ आर पी सिंह , कृषि विज्ञान केंद्र माधोपुर के वरीय वैज्ञानिक तथा प्रधान डॉ एस के गंगवार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। डॉ एस के गंगवार ने कहा कि सरकार ने उर्वरक अनुज्ञप्ति के लिए 15 दिवसीय प्रशिक्षण को अनिवार्य कर दिया है। इस लिए इस प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है ताकि उर्वरक विक्रेता किसानों को सही सलाह दे सकें। मुख्य अतिथि डॉ आर पी सिंह ने कहा कि जानकारी के अभाव में किसान उर्वरकों का अंधाधुंध प्रयोग करते हैं जो भूमि, फसल और मानव स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालता है। ग्रामीण बेरोजगार युवाओं के लिए यह बहुत ही सुनहरा अवसर है। डॉ धीरु कुमार तिवारी ने प्रशिक्षण के दौरान कहा कि फसलों के लिए 16 आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जो अधिक या कम मात्रा में किसी ना किसी रूप में पौधों के लिए आवश्यक होते हैं। इनकी कमी या अधिकता होने पर विभिन्न प्रकार के लक्षण दिखाई पड़ता जो फसलों की उपज को प्रभावित करता है। कार्यक्रम का संचालन डॉ प्रवीण कुमार मिश्र ने किया। डा कुमारी सुनिता ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से आदर्श कुमार, प्रदीप कुमार, संजीव कुमार इत्यादि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Live Updates COVID-19 CASES
Close