अपराधउत्तर प्रदेशखेलझारखण्डताजा खबरेंदुनियादेशधर्मबिहारबिज़नेसब्रेकिंग न्यूज़मनोरंजनराजनीतिराष्ट्रीयशिक्षा

1985 में राजीव गांधी सरकार ने शिक्षा मंत्रालय को नाम किया था HRD, तब दिए गए थे ये तर्क

बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को अपनी मंजूरी दे दी. इसके साथ ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय करने के प्रस्ताव पर भी मोदी कैबिनेट की मुहर लग चुकी है. नई शिक्षा नीति पर देश के अलग-अलग हिस्सों में बहस छिड़ी हुई है. सरकार के इस फैसले को लेकर अब शिक्षा जगत के जानकार भी बंटे हुए हैं. जबकि लोग जानना चाहते हैं कि इस नई नीति के आ जाने से शिक्षा व्यवस्था में किस तरह के बदलाव होंगे. इन सारी बहसों के बीच हम आपको बताते हैं 35 साल पहले का वो किस्सा जब शिक्षा मंत्रालय का नाम बदल दिया गया था.

जी हां, यह सच है, मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदला नहीं गया है बल्कि उसे पुराना नाम वापस दिया गया है जिस नाम से वह आजादी के बाद से 1985 तक जाना जाता रहा था. बता दें कि 35 साल पहले 1985 में राजीव गांधी सरकार ने शिक्षा मंत्रालय का नाम बदलकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय कर दिया था.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Live Updates COVID-19 CASES
Close